कश्मीर मसले का हल सैन्य तरीकों से नहीं हो सकता : महबूबा

नई दिल्ली, 27 जुलाई | जम्मू एवं कश्मीर में सुरक्षा को लेकर अतरिक्त बलों की तैनाती के केंद्र सरकार के फैसले पर घाटी में राजनीतिक पार्टियों की कड़ी प्रतिक्रियाएं सामने आ रही हैं। खबर पर प्रतिक्रिया देते हुए पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने ट्वीट किया, “केंद्र के घाटी में अतिरिक्त दस हजार जवानों की तैनाती के फैसले ने लोगों में भय व मनोविकृति पैदा की है। कश्मीर में सुरक्षाबलों की कमी थोड़े ही है!”

 

उन्होंने कहा, “जम्मू एवं कश्मीर राजनीतिक समस्या है, जिसे सैन्य तरीकों से नहीं सुलझाया जा सकता। भारत सरकार को अपनी नीति में बदलाव करने की जरूरत है।”

 

राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल की दो दिवसीय घाटी की यात्रा के बाद शुक्रवार को केंद्र सरकार ने घाटी में अतरिक्त दस हजार अर्धसैनिक बल के जवान को तैनात करने का फैसला किया है।

 

अमरनाथ यात्रा के चलते घाटी में पहले से ही 40 हजार सैनिकों की तैनाती है।

 

अतिरिक्त तैनाती स्पष्ट रूप से उत्तरी कश्मीर क्षेत्र में की जाएगी, जहां सुरक्षा सरकार के लिए एक चुनौती बनी हुई है।

 

–आईएएनएस

Leave a Reply

Your email address will not be published.